Home / हंसगुल्ले

हंसगुल्ले

हम का जानी बे…

दरियाबाद में एक नौजवान ने एक बुजुर्ग से पूछा: बाबा बताएं कि जब एक दिन दुनिया से जाना ही है तो फिर लोग पैसों के पीछे क्यों भागते हैं? जब जमीन-जायदाद जेवर यहीं रह जाते हैं तो लोग इनको अपनी जिन्दगी क्यों बनाते हैं ?? जब रिश्ते निभाने की बारी …

Read More »

जिंदगी एक जंग है !

जिन्दगी एक जंग है, जबतक बीवी संग है.. सीता से प्यार किया तो राम बन गये राधा से प्यार किया तो श्याम बन गये जबरदस्ती प्यार किया तो आशाराम……बन गये, और कीसी से प्यार नहीं किया तो बाबा रामदेव बन गए!! Share on: WhatsAppसिकन्दरपुर LIVE 1,015

Read More »

ट्रिंग….. ट्रिंग

ट्रिंग ट्रिंग..लड़का ~ हेल्लो कौन?. .लड़की ~ मैं आरती और तुम कौन???...लड़का ~ मैं भजन!.                                                                        ??? …

Read More »

बस इसी पानी से काम चला लो !

रेलवे स्टेशन पर… बेगम: प्यास लगीं है पानी तो ला दोशेख: कयो ना चिकन बिरयानी खिलाऊ? बेगम: वाह मुँह मैं पानी आ गयाशेख: बस इसी पानी से काम चला लो!! Share on: WhatsAppसिकन्दरपुर LIVE 888

Read More »

तुमसे बड़ा गधा मैंने नहीं देखा

दो वकील अदालत में बहस के दौरान व्यक्तिगत कटाक्षों पर उतर आए। एक ने कहा, ‘तुम से बड़ा गधा मैंने आज तक नहीं देखा।’दूसरे ने पलट कर कहा – ‘मैंने भी आज तक तुमसे बड़ा गधा नहीं देखा।’इस पर जज ने मेज पर हथौड़ा मारते हुए कहाँ ‘आर्डर-आर्डर आप दोनों …

Read More »

आप लेट हो गये,ट्रेन तो छूट गई।

अध्यापक-पप्पू ,आर्ट की कापी पर ट्रेन बनाओ,मैं अभी आकर देखता हूं।पप्पू-जी सर। थोड़ी देर बाद अध्यापक-पप्पू दिखाओ।पप्पू-अरे सर!आप लेट हो गये,ट्रेन तो छूट गई। Share on: WhatsAppसिकन्दरपुर LIVE 451

Read More »

अंधा भिखारी

एक अंधा सड़क पर भीख मांग रहा था।एक बाबूजी ने उससे कहा- तुम जवान आदमी हो। तुम्हारे अंधे होने का क्या सबूत है तुम्हारे पास?अंधा बोला- बाबूजी, यह जो सामने दो पेड़ हैं आप उन्हें देख रहे हैं?बाबूजी बोले- हां! देख रहा हूं।अंधा बोला- पर ये पेड़ मुझे दिखाई नहीं …

Read More »
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.