[pj-news-ticker scroll_speed="0.15"]
Breaking News
Home / जिला-जवार / बलिया से शुरू हुई गंगा यात्रा, राज्यपाल आनंदी बेन ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

बलिया से शुरू हुई गंगा यात्रा, राज्यपाल आनंदी बेन ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

बलिया। गंगा यात्रा (बलिया से कानपुर) की शुरुआत सोमवार को बलिया जिले के दूबेछपरा के गोपालपुर घाट से हुई। महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने इस यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर आयोजित भव्य कार्यक्रम की शुरुआत मंत्रोच्चार के साथ गंगा पूजन कर किया गया। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी व केंद्रीय मंत्री महेंद्र पाण्डेय व अन्य अतिथियों के साथ गंगा पूजन किया। इसके बाद मां गंगा की भव्य आरती में प्रतिभाग किया। फिर नौकायन प्रतियोगिता को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मंच पर पहुंचने के बाद राष्ट्रगान का गायन हुआ। इसके बाद राज्यपाल ने दीप प्रज्ल्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने जिले के क्रांतिकारियों को याद करते हुए अपने सम्बोधन की शुरुआत की। कहा, यह धरती क्रांतिकारियों की धरती है। यहां आकर काफी खुशी होती है। उन्होंने कहा कि गंगा किनारे बसने वाले लोग खुशनसीब हैं। हमारे गुजरात में मात्र एक नदी है, लेकिन यहां नदियां ही नदियां हैं। यह सौभाग्य की बात है। मानव जीवन बचाने के लिए इन नदियों को प्रदूषित होने से बचाना पड़ेगा। सोचिए, पीने का पानी हम नदी से लेते है और गंदगी भी नदी में डालते हैं। लोगों ने नदियों के साथ उपजाऊ भूमि को भी केमिकलयुक्त बना दिया। कारखानों का केमिकलयुक्त पानी नदी में बहने देते हैं। इसका दुष्परिणाम हुआ कि गम्भीर बीमारियां फैलने लगी, उपजाऊ भूमि का क्षरण होने लगा। बावजूद इसके हमने इसके पीछे के कारणों के बारे में नहीं सोचा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पर विचार किया और नदियों को बचाने के लिए कदम बढ़ाया। गुजरात में मुख्यमंत्री रहते उन्होंने कारखानों के गन्दे जल को शुद्ध करके नदी में जाने के लिए एसटीपी प्लांट लगवाया और वहां नर्मदा नदी एकदम साफ-सुथरी नदी हो गई। अब मोदी ने गंगा को साफ करने का संकल्प लिया है। राज्यपाल ने कहा कि हम पूरे विश्व को परिवार मानते हैं। हमारे पेड़-पौधे, नदियां, जीव-जंतु आदि उसी परिवार का हिस्सा हैं। सबको बचाने से ही हमारा जीवन बचेगा। पेड़-पौधे काटने से ज्यादा जरूरी अधिक से अधिक पौधे लगाना है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी को गंगा बचाने की इस पहल को शुरू करने के लिए धन्यवाद दिया। राज्य सरकार किनारे के गांवों में समुचित विकास, शुद्ध पानी की उपलब्धता, गंगा उद्यान, खेल मैदान सहित हर प्रकार की सुविधाओं के लिए तत्परता से काम रही है। अस्पतालों की स्थिति में सुधार और जनकल्याण से जुड़े कार्य भी इस अभियान से जोड़ा गया है।

राज्यपाल ने अपने सम्बोधन के माध्यम से हर एक व्यक्ति से आवाह्न किया कि अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाएं, ताकि शुद्ध हवा आपको मिले। अपने आसपास के माहौल को साफ सुथरा रखेंगे तो उसका लाभ आपको ही मिलेगा। गम्भीर बीमारियों से बचाव हो सकेगा। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मचं से गंगा यात्रा रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी व प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश यादव गंगा यात्रा रथ पर सवार होकर सड़क मार्ग से आगे बढ़े। जबकि जल मार्ग से केंद्रीय मंत्री महेंद्र पांडेय व जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह यात्रा पर निकले। कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही गंगा रथ के साथ उजियार भरौली तक गए।

Share with :
Sikanderpur Live Welcomes You.....

About सिकन्दरपुर LIVE

Check Also

शासन की सख्ती के आगे एक न चली, जिले में हजारों ने छोड़ी परीक्षा

बलिया। माध्यमिक शिक्षा परिषद उप्र. प्रयागराज द्वारा संचालित बोर्ड परीक्षा के तहत मंगलवार को प्रथम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *