[pj-news-ticker scroll_speed="0.15"]
Breaking News
Home / जिला-जवार / गोरखपुर से पीएम मोदी के क्लिक करते ही किसानों के मोबाइल पर आने लगे मैसेज

गोरखपुर से पीएम मोदी के क्लिक करते ही किसानों के मोबाइल पर आने लगे मैसेज

जिले के 31,167 किसानों को मिली पहली किस्त
बलिया। किसानों के लिए ऐतिहासिक योजना ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’ के तहत जिले के 31,167 किसानों को लाभ मिला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर में मंच से जैसे आरटीजीएस के तहत पैसा ट्रांसफर करने के लिए टैबलेट में क्लिक किया, किसानों के खाते में धनराशि जानी शुरू हो गई। मोबाइल में मैसेज देखने के बाद किसानों के चेहरे पर स्पष्ट खुशी देखने को मिली। कार्यक्रम के दौरान ही कई किसानों के खाते में धनराशि आने का मैसेज मोबाइल पर आया।
गोरखपुर में हुए कार्यक्रम का हुआ सीधा प्रसारण
– गोरखपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का शुभारंभ और विभिन्न परिणाम के शिलान्यास कार्यक्रम का सीधा प्रसारण जनपद मुख्यालय और सभी तहसील मुख्यालयों पर कराया गया। कलेक्ट्रेट परिसर में सूचना विभाग द्वारा लगाई गई एलईडी वैन के माध्यम से सैकड़ों लोगों ने कार्यक्रम को देखा। वहीं सभी तहसीलों में एलईडी स्क्रीन या टीवी चलाकर कार्यक्रम का सीधा प्रसारण कराया गया। कृषि विभाग और तहसील प्रशासन का भी इसमें अहम योगदान रहा। इस अवसर पर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना पर आधारित लघु फ़िल्म दिखाई गई। इसमें योजना की हर जानकारी शामिल थी।
उधर पीएम में क्लिक किया, इधर बजी मोबाइल की घण्टी
– कलेक्ट्रेट परिसर में सूचना विभाग द्वारा एलईडी वैन के माध्यम से कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया जा रहा था। इसमें सैकड़ों किसान मौजूद थे। गोरखपुर में मंच से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जैसे ही योजना की पहली किस्त भेजने के लिए टैबलेट में क्लिक किया, इधर कार्यक्रम देख रहे एक किसान की मोबाइल की मैसेज की घंटी बजी। किसान ने जैसे ही दो हजार रुपए खाते में आने का मैसेज देखा, खुशी से उछल पड़ा। इस मैसेज को वहां मौजूद आसपास के लोगों को दिखाकर अपनी खुशी का इजहार करता दिखा।
आवास, बिजली और जनहित से जुड़ी योजनाओं का हुआ प्रचार-प्रसार
– कलेक्ट्रेट परिसर में सूचना विभाग की ओर से लगाई गई एलईडी टीवी के माध्यम से सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी लोगों को दी गई। सौभाग्य योजना के लाभ लेने के तरीके और उससे जुड़ी विस्तृत जानकारी साझा हुई। प्रधानमंत्री आवास योजना के कारण कच्चे घर से पक्का छत मिलने से एक गरीब को किस कदर खुशी मिलती है, दिखाया गया। कुल मिलाकर प्रदेश व देश के कुछ उदाहरण को देख लोगों ने समझा कि किस तरह आवास, शौचालय, पेंशन, उज्ज्वला और बिजली से जुड़ी योजनाओं के जरिए लोगों के घर खुशहाली आई। इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर अश्विनी श्रीवास्तव, तहसीलदार गुलाब चंद्रा, सूचना अधिकारी एके पांडेय, नायब तहसीलदार जया सिंह, उप निदेशक कृषि इंद्राज, जिला कृषि अधिकारी विकेश कुमार पटेल समेत सैकड़ों किसान मौजूद थे।
मत्स्य और पशुपालन के केसीसी से जोड़ने पर हर्ष
– गोरखपुर में प्रधानमंत्री ने मंच के माध्यम से किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान किया। इसमें सबसे खास बात यह रही कि अब दो लाख तक की सीमा वाले किसान क्रेडिट कार्ड से मत्स्य पालन और पशुपालन करने वाले भी जुड़ जाएंगे। ऐसे तीन किसानों को केसीसी देकर शुभारम्भ किया। मछली पालन और पशुपालन करने वाले किसानों के लिए यह काफी राहत देने वाला निर्णय है।
किसानों से की वीडियो कांफ्रेंसिंग से की बात
प्रधानमंत्री ने देश के विभिन्न हिस्सों के एक-एक किसानों से वीडियो कांफ्रेन्सिंग के माध्यम से बातचीत की। किसानों ने योजना शुरू करने के लिए अपनी खुशी अलग-अलग तरीके से जाहिर की। प्रधानमंत्री ने भी सभी को अपनी ओर से शुभकामनाएं देते हुए देश के विकास में इसी तरह अपना योगदान देते रहने का संदेश दिया।

Share with :
Sikanderpur Live Welcomes You.....

About सिकन्दरपुर LIVE

Check Also

प्रवक्ता संस्कृत के पद पर चयनित होकर डॉ. दिव्या राय ने अपने क्षेत्र सहित पूरे जनपद का बढ़ाया सम्मान

बलिया। उत्तर प्रदेश विशेष अधीनस्थ शिक्षा सेवा (महिला संवर्ग) के अंतर्गत राजकीय इंटर कॉलेज में …